add image
add image

तेज बहादुर ने नामांकन खारिज को लेकर को आयोग के फैसले को दिया कोर्ट में चुनौती

news-details

बर्खास्त बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव ने सुप्रीम कोर्ट में वाराणसी लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार के रूप में नामांकन खारिज करने को चुनौती दी। यादव की ओर से अधिवक्ता प्रशांत भूषण पेश हो रहे हैं

बनारस की लोकसभा सीट से पहले निर्दलिय फिर बाद में अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली पार्टी से पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे भारतीय बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव का नामांकन खारिज होने के बाद तेज बहादुर ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है.

दरअसल, तेज बहादुर का यह आरोप है कि चुनाव आयोग ने उनके साथ नाइंसाफी की है. तेज बहादुर के वकील का दावा है कि इलेक्शन कमीशन विपक्ष के दबाव में आकर ऐसा भेद-भाव बरतने का काम कर रही है. क्योंकि, तेज बहादुर देश के प्रधानंत्री मोदी के खिलाफ चुनावी मैदान में थे.

इसलिए उन्होंने चुनाव आयोग के फैसले पर असंतोष जाहिर करते हुए इसे कोर्ट में चुनौती दी है. हालांकि, सोशल मीडिया क हवाले से कयास यह भी लगाया जा रहा है कि तेज बहादुर का नामंकन रद्द होने के बाद उनकी पत्नी चुनाव मैदान में उतर सकती हैं.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...