add image
add image

सिर्फ 12 वर्ष की आयु में लिख डाली 135 किताबें

news-details

उत्तर प्रदेश के रहने वाले मृगेंद्र जिनकी उम्र अभी 12 वर्ष है, धर्म और जीवनी जैसे विषयो पर उन्होंने ने अब तक 135 किताबें लिख चुके हैं. जिसमे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीवनी भी शामिल है. मृगेंद्र में 6 वर्ष के उम्र में ही लिखना आरम्भ कर दिया था. इनकी पहली किताब कविताओं का संकलन था. मृगेंद्र का कहना है कि '' मैंने रामायण के 51 किरदारों का विश्लेषण करके भी किताबे लिखी है. हर किताबो में लगभग 25 से 100 पन्ने है. वैसे तो वह अपने आप को लेखक के तौर पर ''आज का अभिमन्यू'' कहते हैं. और इनके नाम चार वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है. यहाँ तक कि मृगेंद्र को लंदन स्थित वर्ल्ड यूनिवर्सिटी ऑफ़ रिकॉर्ड से डॉक्ट्रेट के लिए भी प्रस्ताव मिल चूका है. 
 
इनकी माँ सुल्तानपुर की एक निजी स्कूल ने में पढ़ाती है. जिन्होंने कहा कि मृगेंद्र का बचपन से ही पढ़ने में रूचि रही है. यह देख कर मैंने उसे प्रोत्साहित किया और उसके पढ़ने पर विशेष ध्यान देना सुरु किया. एक टीचर होने के नाते मैंने अपने बेटे के पढ़ाई को लेकर मै ज्यादा ही फोकस थी. हालाँकि मेरा बेटा मुझसे भी दो कदम आगे होता है पढ़ाई को लेकर. और मृगेंद्र के पिता राज्य के चीनी उद्योग व गन्ना विकाश विभाग में कार्य करते हैं. 
 
मृगेंद्र की इच्छा है की वो बड़े होकर लेखक ही बने रहे और विभिन्न विषयों पर किताबे लिखे. क्योकि उनका मानना है कि मुझे लिखने में ही सुकून मिलता है और मै इसी को अपना पैशन और प्रोफेशन बनाना चाहता हूँ. 

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...