add image
add image

केंद्रीय गृह मंत्रालय: स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के जवान विदेशी दौरों पर भी रहेंगे तैनात

news-details

केंद्रीय गृह मंत्रालय, स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप सुरक्षा को लेकर नए बदलाव कर रहा है। अब जिन्हें भी ये सुरक्षा प्राप्त है उनके साथ विदेशी दौरों पर भी स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के जवान तैनात रहेंगे, यानी कोई भी व्यक्ति जिसे ये सुविधा प्राप्त है उसके साथ जवान भी विदेश का दौरा करेंगे। पहले ऐसा नहीं होता था, लेकिन अब सरकार नियम में बदलाव कर रही है। सरकार के इस फैसले को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और गांधी परिवार के अन्य सदस्यों के दौरों से जोड़ा जा रहा है।

बता दें कि स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप सुरक्षा देश में प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्रियों को दी जाती है। अभी ये सुविधा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार को मिलती है। इनमें कांग्रेस अध्यक्ष (अंतरिम) सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शामिल हैं। पहले ये सुरक्षा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी दी जाती थी, लेकिन हाल ही में उनकी सुरक्षा में सिर्फ Z+ कवर कर दिया गया है।

महाराष्ट्र चुनाव से पहले राहुल गांधी विदेशी दौरे पर रवाना हो गए हैं, इस बात की चर्चाएं हैं कि वह बैंकॉक गए हैं या फिर कंबोडिया, लेकिन उनकी आधिकारिक लोकेशन की जानकारी नहीं है। भारतीय जनता पार्टी की ओर से कई बार इस पर सवाल उठाए जा चुके हैं कि राहुल गांधी अक्सर ऐसी विदेशी यात्राओं पर जाते हैं, जिसकी देश को जानकारी नहीं होती है। जबकि वह विपक्षी पार्टी के बड़े नेता हैं। इसके पहले भी राहुल गांधी कई बार नामालूम छुट्टी या ऐसे दौरों पर गए हुए हैं, जिनपर बीजेपी निशाना साधती रही है।

दरअसल, गांधी परिवार की ओर से जब भी कोई व्यक्ति विदेश दौरे पर जाता था तो वह अपने पहले स्टॉपेज तक ही स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप की सुरक्षा को ले जाता था, उसके बाद वह उन्हें वापस भेज देता। गांधी परिवार की ओर से इस दौरान प्राइवेसी का हवाला दिया जाता था।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के नए बदलावों के मुताबिक अब स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप सुरक्षा लेने वाला कोई भी सदस्य यदि विदेश दौरे पर होगा तो स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के जवान हमेशा ही उनके साथ रहेंगे। अगर ऐसा नहीं होता है तो जान का खतरा बना रह सकता है। यानी अब दिल्ली से विदेश जाने और वापस दिल्ली आने तक स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप सुरक्षा के जवान गांधी परिवार के साथ रहेंगे। प्रधानमंत्री तो हमेशा ही इस सुरक्षा घेरे के बीच में रहते ही हैं।

बता दें कि चार स्तरीय सुरक्षा के अलावा स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप एक स्पेशल सुरक्षा व्यवस्था है जिसके तहत देश के वर्तमान और पूर्व प्रधानमंत्रियों के अलावा उनके करीबी परिजनों को यह सुरक्षा दी जाती है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद देश के शीर्ष पद पर बैठे नेता और उनके परिजनों की सुरक्षा देने के लिहाज से स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप की स्थापना की गई थी।

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...