Surya Samachar
add image

आज हैं फूलेरा दूज, जानिए क्यों और कैसे मनाया जाता हैं यह पर्व।

news-details

25 फरवरी यानी आज फुलेरा दूज का पर्व हैं. यह पर्व फाल्गुन महीने के द्वितीय पक्ष को मनाया जाता हैं. हिन्दू धर्म में इस फुलेरा दूज पर्व को काफी सुबह माना जाता हैं. हिन्दू धर्म के शास्त्रों में इसे अबूझ एवं स्वयं सिद्ध मुहूर्त कहा गया है। अबूझ मुहूर्त में सभी तरह के मांगलिक कार्य बिना मुहूर्त देखा किया जा सकता है। फुलेरा दूज का पर्व मथुरा, वृंदावन, में खासकर कृष्ण मंदिरों में विशेष तौर पर मनाया जाता है।
 
फुलूरा पर्व के दिन मथुरा और वृन्दावन में राधा कृष्णा के मंदिर में पूजा होती हैं. और सभी मंदिरों को तरह-तरह के रंग बिरंगे फूलों से सजाया जाता है वहीं लोग फूलों की होली खेलते हैं. फुलेरा दूज पर अबूझ मुहूर्त होता है इसलिए इस दिन को विवाह के लिए सबसे दिन उत्तम माना जाता है।
 
इस दिन घर में रंगोली भी बनाया जाता हैं, वहीं घरो को सजाया जाता हैं. साथ ही अच्छा पकवान बनाकर भगवान राधा और कृष्णा को भोग लगाया जाता हैं. ऐसी मान्यता हैं की इस दिन राधा और कृष्णा के पूजा से सभी तरह के मनोकामना पूर्ण होती हैं. 

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...