add image
add image

मुख्यमंत्री केजरीवाल के खिलाफ बवाल , जेएनयू आरोपियों को बचाने का आरोप

news-details

दिल्ली: भारतीय जनता युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ उन रिपोर्टों का विरोध किया कि दिल्ली सरकार ने जेएनयू देशद्रोह मामले में कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए पुलिस द्वारा मंजूरी के अनुरोध को अस्वीकार करने का फैसला किया है।वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि जेएनयू में देशद्रोही नारेबाजी के मामले में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा चलाने को लेकर दिल्ली सरकार ने अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है। दिल्ली सरकार का गृह विभाग सभी जानकारी लेने के बाद उचित निर्णय लेगा।

केजरीवाल ने कहा कि इस मामले पर राजनीति नहीं होना चाहिए। जबकि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार पर यह आरोप लगाया है कि वह कन्हैया कुमार और अन्य आरोपियों पर मुकदमा न चलाने की कोशिश में है और उनका बचाव कर रहे है इस मामले में भाजपा पार्टी विरोध करेगी।

सूत्रों का कहना है कि कानूनी राय लेने के लिए इस मामले को दिल्ली सरकार ने लॉ विभाग के पास भेजा था। लॉ विभाग ने अपनी राय गृह विभाग को भेज दी। पुलिस से मामला जुड़ा होने के कारण यह मामला गृह विभाग को भेजा गया। लॉ विभाग से मिली राय को गृह विभाग ने सही मानते हुए फाइनल रिपोर्ट तैयार कर दी है। जिसमें कहा गया है कि कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मामला नहीं बनता है। क्योंकि यह साबित नहीं होता कि देश विरोधी नारे कन्हैया कुमार ने ही लगाए थे वहां दो गुट में विद्यार्थी थे इसमें ये कहना मुश्किल है कि नारे किस ने  लगाए। इसी मामले को ले कर पार्टियों में आक्रोश है और वह दिल्ली सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...