add image
add image

31 अक्टूबर तक लगभग 7 करोड़ यूज़र्स का फ़ोन नंबर हो सकता है बंद

news-details

ट्राई (TRAI) की हाल की खबरों के अनुसार, लगभग 7 करोड़ यूज़र्स अगर 31 अक्टूबर तक अपना नंबर दूसरे नेटवर्क में पोर्ट नहीं कराते हैं तो उनका फ़ोन नंबर बंद हो जाएगा और दोबारा ऐक्टिवेट नहीं होगा. बता दें कि साल 2018 की शुरुआत में एयरसेल ने कॉम्पटीशन के चलते अपनी सेवाएं देनी बंद कर दी थीं. फरवरी 2018 में एयरसेल ने ट्राई से यूनीक पोर्टिंग कोड्स (UPC) देने के लिए कहा ताकि एयरसेल के कस्टमर्स मोबाइल नंबर को बिना पोर्ट किए सर्विस को चालू रख सकें. TRAI की रिपोर्ट के अनुसार, वर्तमान में लगभग 70 मिलियन (7 करोड़) एयरसेल के यूजर्स हैं. अगर इन्होंने तय तारीख तक अपना नंबर दूसरे नेटवर्क में पोर्ट नहीं कराया तो इनका नंबर बंद हो जाएगा.
करोड़ों यूज़र्स के पास है एयरसेल नंबर 
साल 2018 में जब एयरसेल ने सर्विस बंद की थी तब इसके 90 मिलियन यानी 9 करोड़ यूज़र्स थे. 22 फरवरी 2018 को एयरसेल ने ट्राई से अपने कस्टमर्स के लिए एडिशनल यूपीसी देने को कहा. 28 फरवरी को ट्राई ने एयरसेल को एडिशनल कोड दिया. टेलीकॉम टॉक के अनुसार, उपलब्ध डेटा से पता चलता है कि 28 फरवरी 2018 से 31 अगस्त 2019 के बीच करीब 19 मिलियन एयरसेल कस्टमर्स ने एमएनपी का विकल्प चुना यानी कि अपना नंबर दूसरे नेटवर्क में पोर्ट करवा लिया. अब ट्राई के इस आदेश के बाद एयरसेल और डिशनेट के कस्टमर्स को 31 अक्टूबर तक अपना नंबर किसी अन्य नेटवर्क में पोर्ट करवाना होगा.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...