add image
add image

मणिपुरी व्यक्ति ने व्हाट्सएप बग का पता लगाया, फेसबुक ने किया सम्मानित

news-details

सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने यूजर की निजता का उल्लंघन करने वाले एक व्हाट्सएप बग का पता लगाने के लिए मणिपुर के एक व्यक्ति को सम्मानित किया है।

पेशे से सिविल इंजीनियर जोनेल सोगईजाम (22) ने बताया कि सोशल मीडिया की बड़ी कंपनी ने उन्हें व्हाट्सएप बग का पता लगाने के लिए 5000डॉलर का इनाम दिया है और साथ ही उसे ‘फेसबुक हॉल ऑफ फेम 2019’ में भी शामिल किया है।

सोगईजाम का नाम इस साल के लिए ‘फेसबुक हॉल ऑफ फेम’ में 94लोगों की सूची में अभी 16वें स्थान पर है।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘व्हाट्सएप के जरिए एक वॉयस कॉल के दौरान बग रिसीवर की जानकारी और मंजूरी के बिना इसे वीडियो कॉल में अपग्रेड कर देता है। इससे फोन करने वाला व्यक्ति यह देख सकता है कि दूसरा व्यक्ति क्या कर रहा है जो उस व्यक्ति की निजता का उल्लंघन है।’’

इस बग का पता लगाने के बाद उन्होंने मार्च में फेसबुक के बग बाउंटी प्रोग्राम को इसकी जानकारी दी जो निजता के उल्लंघन के मामलों से निपटता है।

उन्होंने बताया कि फेसबुक की सुरक्षा टीम ने अगले दिन इस खामी को माना और उसके तकनीकी विभाग ने 15-20दिनों के अंदर इस खामी को दुरुस्त कर दिया।

फेसबुक ने सोगईजाम को भेजे एक मेल में कहा, ‘‘इस मुद्दे की समीक्षा करने के बाद हमने आपको 5000डॉलर देने का फैसला किया है।’’

मार्क जुकरबर्ग के मालिकाना हक वाली फेसबुक ने फरवरी 2014में 19अरब डॉलर में मैसेजिंग एप व्हाट्सएप को खरीद लिया था।

                 भाषा

                 

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...