add image
add image

100वें स्वतंत्रता दिवस पर कश्मीर भारत में नहीं होगा: एमडीएमके के प्रमुख वाइको

news-details

तमिलनाडु की राजनीतिक पार्टी एमडीएमके के प्रमुख वाइको ने एक विवादित बयान देते हुए बिजेपी पर हमला बोला है. जिसमें वाइको ने नरेंद्र मोदी सरकार के जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने के फैसले की निंदा की और कहा कि भारत के 100वें स्वतंत्रता दिवस पर कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं होगा. 

एमडीएमके के प्रमुख वाइको ने कहा कि कश्मीर भारत में नहीं होगा जब भारत अपनी आजादी के 100वें साल का जश्न में डूबा होगा और आजादी की खुशियां मना रहा होगा. साथ ही उन्होंने कश्मीर के हालात के लिए कांग्रेस पर 30 प्रतिशत और भाजपा पर 70 प्रतिशत आरोप लगाया है. साथ ही यह भी कहा कि डीएमके के संस्थापक सी एन अन्नादुराई जो अन्ना के नाम से प्रसिद्ध है उनके 110 वें जन्मदिन पर पार्टी एक कार्यक्रम का आयोजन करेगी.  पांच अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म कर दिया और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया.

बता दें कि बाइको ने इससे पहले राज्यसभा में अनुच्छेद 370 पर चर्चा के दौरान कहा था कि आज का दिन दुःख का दिन है क्योंकि हमने अपना वादा नहीं निभाया है.जब पाकिस्तानी सैनिकों ने कश्मीर के इलाके में प्रवेश किया, तो महाराजा हरि सिंह ने जवाहरलाल नेहरू को एक दूत भेजा. जिसके बाद समझौते पर हस्ताक्षर किया गया था. वाइको ने कहा था कि जब कश्मीरी नेता शेख अब्दुल्ला ने भारत के साथ जाने का फैसला किया, तो उन्होंने एक शर्त रखी कि जम्मू-कश्मीर राज्य की व्यक्तित्व और मौलिकता से समझौता नहीं किया जाएगा.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...