add image
add image

बढ़ते हवाई पैसेंजर्स के चलते भारत को जरुरत 2380 नए हवाईजहाज की

news-details

ग्लोबल एयरोस्पेस ने हाल ही में यह घोषणा किया था कि अगले 20 वर्षों में बढ़ते यात्री यातायात को संभालने के लिए भारत को 2000 नए कमर्शियल हवाई विमानों की आवश्यकता होगी। ऑपरेटर्स के आंकड़ों के अनुसार जहाज के फ्लीट और उसके संचालन में USD 440 बिलियन तक के बजट की जरुरत होगी, जिसमे ग्राउंड स्टेशन, कार्गो ऑपरेशन, इंजीनियरिंग और संरक्षण का खर्चा भी शामिल है। बुधवार को यह घोषणा सीएमओ (COMMERCIAL MARKET OUTLOOK ) के वार्षिक रिपोर्ट में की गयी। 
 
नए हवाई विमान के आने के बाद कई पुराने विमानों को प्रतिस्थापित कर दिया जायेगा। वहीं, साल 2038 तक 2500 नए विमान भारत में लाये जायेगे। इसके साथ आने वाली कुछ सालो में हम देख पाएंगे की डोमेस्टिक फ्लाइट्स की नेटवर्किंग बढ़ जाएगी और ज़ादा से ज़ादा डायरेक्ट फ्लाइट उपलब्ध हो पायेगी। 

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...