add image
add image

भारत अपने फाइटर जेट राफेल को चीन और पाकिस्तान पर नजर रखने के लिए करेगी नियुक्त

news-details

पाकिस्तान और चीन की नापाक कोशिशों और बढ़ती दोस्ती को लेकर भारत अब सतर्क हो गया है. चीन पाक के ख़तरनाक मंसूबो को खत्म करने के लिए अब भारत अपने नए राफेल जेट्स को अंबाला और हरसिमाला बॉर्डर पर तैनात करने जा रहा है. इसमें ख़ास बात यह है कि राफ़ेल जेट्स में फ़्रांसिसी तकनीक का इस्तेमाल कर बनाया गया है. रिपोर्ट्स के अनुसार फ्रांस की एविएशन कंपनी ने भारत को जल्द ही राफ़ेल जेट्स बनाकर देने की बात कही है.

कंपनी इस साल सितम्बर तक ये फाइटर जेट्स दे सकती है. भारत और फ्रांस की एविएशन के बीच 60000 करोड़ रुपए के 36 फाइटर जेट्स की डील हुई थी. जिसमे से 18फाइटर जेट्स को अंबाला और बाकि जेट्स को पश्चिमी बंगाल के हरसिमाला में तैनात करने का फ़ैसला लिया गया है.

दरसअल चीन के आक्रामक रवैये को देखते हुए भारत ने यह फैसला लिया है. अंबाला और पश्चिम बंगाल के हरसिमाला से भारत चीन पर पूरी नज़र रख सकता है. चीन के हुए द्वारा आक्रामक गतिविधियों का जवाब भी दे सकता है. इससे पहले भी भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश के सरसावा में एक जैट को तैनात करने का फैसला लिया था. लेकिन ज़मीन विवाद को लेकर ऐसा हो नहीं पाया था.

पश्चिम बंगाल के हरसिमाला एयर बेस पर एमआईजी 27  की जगह राफ़ेल जेट्स को तैनात किया जायेगा. भारत फ्रांस की इस मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों पर इन जेट्स को बनाने का दवाब बना रहा है. इसी के चलते कमपनी ने जेट्स को बनाना जल्दी शुरू कर दिया है. यह फ़ैसला लेने के बाद अब भारत पाकिस्तान और चीन की बढ़ती दोस्ती पर भी नज़र रख पायेगा.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...