#लोकसभा चुनाव 2019
चुनावी फैक्ट्स
×

लोक सभा चुनाव 2019

add image
add image

Google ने किया Huawei का स्मार्टफोन बैन, नहीं कर पायेंगे स्मार्टफोन अपडेट

news-details

Huawei का स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वालों को पिछले दिनों गूगल ने बड़ा झटका दिया है। दरअसल, अमेरिकी सरकार के हुवावे को ब्लैकलिस्ट करने के बाद गूगल ने कंपनी के साथ अपना बिजनेस सस्पेंड कर दिया है। साथ ही, हुवावे के ऐंड्रॉयड लाइसेंस को कैंसल कर दिया है। अब हुवावे की पहुंच गूगल के हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और टेक्निकल सर्विसेज तक नहीं होगी। गूगल का यह कदम सीधे तौर पर हुवावे के आने वाले स्मार्टफोन पर असर डालेगा। हम आपको बता रहे हैं कि गूगल के इस झटके के बाद हुवावे के मौजूदा स्मार्टफोन यूजर्स और फ्यूचर में लॉन्च होने वाले फोन पर क्या असर पड़ेगा.

ऐप्स अपडेट नहीं कर पाएंगे हुवावे फोन के मौजूदा यूजर्स

जो लोग अभी हुवावे के स्मार्टफोन इस्तेमाल कर रहे हैं, वे अपने ऐप्स अपडेट नहीं कर पाएंगे जो कि उनके लिए परेशानी का बड़ा सबब होगा, क्योंकि ऐप बड़ी तेजी से आउटडेटेड और असुरक्षित होंगे। हुवावे के मौजूदा यूजर्स को कुछ ऐप्स का करेंट वर्जन हमेशा के लिए इस्तेमाल करना पड़ सकता है। ऐप्स में कई बार बड़ी सिक्यॉरिटी खामियां आ जाती हैं, जिन्हें प्ले स्टोर में गूगल के अपडेट के जरिए फिक्स किया जाता है। हालांकि, ये अपडेट हुवावे के स्मार्टफोन यूजर्स को नहीं मिलेंगे, ऐसे में उनके फोन में सेंधमारी का संकट बना रहेगा।

क्या हुवावे के स्मार्टफोन काम करते रहेंगे?

फिलहाल, हुवावे के स्मार्टफोन पहले की तरह काम करते रहेंगे, लेकिन कभी भी इनके लिए संकट खड़ा हो सकता है। गूगल ने कहा है कि हुवावे के मौजूदा यूजर्स की पहुंच Play Store तक होगी। हालांकि, गूगल ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि Play Store का एक्सेस कब तक मिलता रहेगा। गूगल ने कहा है, 'हुवावे के मौजूदा डिवाइसेज में Google Play Store और Google Play Protect से सिक्यॉरिटी प्रोटेक्शन मिलता रहेगा।' इसका मतलब है कि मौजूदा यूजर्स को ऐप्स और डाउनलोड्स के साथ गूगल के प्ले प्रोटेक्ट के जरिए प्रोटेक्शन मिलेगा।

क्या मिलेगा गूगल का कोई अपडेट?

हुवावे के मौजूदा कस्टमर्स की पहुंच गूगल के Play Store तक तो होगी, लेकिन इसके अपडेट्स उन्हें नहीं मिलेंगे। इसका मतलब है कि दूसरी मोबाइल कंपनियों के यूजर्स को ऐंड्रॉयड के अपडेट मिलेंगे, लेकिन हुवावे के यूजर्स की पहुंच इन तक नहीं होगी। यानी, गूगल के Play Store पर किए जाने वाले हर छोटे-बड़े अपडेट हुवावे के यूजर्स को नहीं मिलेंगे। इन अपडेट्स में सिक्यॉरिटी पैच भी शामिल हैं। मान लीजिए कोई ऐप अपना नेक्स्ट वर्जन लेकर आता है तो हुवावे के यूजर्स उसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। उन्हें ऐप के पुराने वर्जन से ही काम चलाना होगा। साथ ही, हुवावे के यूजर्स को ऐप के सिक्यॉरिटी अपडेट भी नहीं मिलेंगे।

क्या सेफ रहेंगे हुवावे के स्मार्टफोन?

हुवावे के स्मार्टफोन बहुत ज्यादा असुरक्षित हो सकते हैं, क्योंकि इन्हें सिक्योरिटी अपडेट्स नहीं मिलेंगे। ऐसे में हुवावे के करोड़ों यूजर्स के स्मार्टफोन पहले की तरह सेफ नहीं रह जाएंगे। हुवावे के स्मार्टफोन यूजर्स को सिक्यॉरिटी को लेकर क्यों चिंतित होना चाहिए, इसको हम कुछ इस तरह समझ सकते हैं। पिछले हफ्ते खबर आई थी कि एक इजरायली फर्म, वॉट्सऐप की एक खामी का फायदा उठाकर ऐप और उनके फोन के जरिए लोगों की पर्सनल इंफॉर्मेशन में सेंधमारी करने के साथ उनकी जासूसी कर रही है। वॉट्सऐप ने इस मामले में तुरंत कदम उठाते हुए Play Store के जरिए ऐंड्रॉयड यूजर्स के लिए इस खामी को दूर किया। हुवावे को लेकर गूगल के फैसले के बाद अब कंपनी के यूजर्स को सिक्यॉरिटी अपडेट नहीं मिलेंगे, ऐसे में उनके स्मार्टफोन में सेंधमारी का खतरा बना रहेगा। एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर हुवावे के स्मार्टफोन यूजर्स को पुख्ता सिक्यॉरिटी नहीं मिलेगी तो भला लोग अपनी पर्सनल चीजें और डीटेल्स फोन में क्यों रखेंगे।

हुवावे के नए स्मार्टफोन खरीदने वाले यूजर्स पर असर

हुवावे के फ्यूचर कस्टमर्स के लिए राहें और मुश्किल भरी हैं। हुवावे के नए स्मार्टफोन की पहुंच Gmail, Google Maps, सर्च, गूगल असिस्टेंट और प्ले स्टोर के दूसरे ऐप्स तक नहीं होगी। नए यूजर्स पर क्या असर होगा, इसको लेकर गूगल ने फिलहाल कोई बयान नहीं जारी किया है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर यूजर्स ऐंड्रॉयड के ऑफिशल वर्जन का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे तो भला वह हुवावे के स्मार्टफोन क्यों खरीदेंगे।

क्या कम होगा हुवावे के स्मार्टफोन का आकर्षण

हुवावे से सर्विसेज वापस लेने से जुड़ा गूगल का फैसला चाइनीज कंपनी को स्मार्टफोन की बिक्री करने से नहीं रोक पाएगा, लेकिन Play Store, ऐंड्रॉयड अपडेट और गूगल के दूसरे ऐप्स के बिना इन स्मार्टफोन का आकर्षण पहले जैसा नहीं रहेगा। ऐंड्रॉयड ऐप्स के लिए प्ले स्टोर सबसे भरोसेमंद अड्डा है। हुवावे के नए स्मार्टफोन कंपनी के कस्टम यूजर इंटरफेस के साथ ऐंड्रॉयड के ओपन सोर्स वर्जन पर चलेंगे। ऐसे में यूजर्स को कोई अपडेट और नए फीचर नहीं मिलेंगे, जो कि ऐंड्रॉयड यूजर्स को मिलते हैं। इन स्मार्टफोन को हुवावे से सॉफ्टवेयर अपडेट्स मिलेंगे।

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...