Surya Samachar
add image
add image

एडुकॉम्प के खिलाफ बैंकों से 1955 करोड़ रुपये के फ्रॉड का मामला दर्ज

news-details

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने एडुकॉम्प सॉल्यूशंस, उसकी सहयोगी कंपनी और निदेशकों पर करीब 1,955 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है. कंपनी ने कथित रूप से भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की अगुवाई वाले 13 बैंकों के गठजोड़ से यह धोखाधड़ी की है.

 सीबीआई अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि सीबीआई ने आठ स्थानों पर छापेमारी भी की है. जांच एजेंसी ने एडुकॉम्प सॉल्यूशंस लिमिटेड, उसके प्रबंध निदेशक शांतनु प्रकाश, गारंटर जगदीश प्रकाश, उसकी सहयोगी कंपनी एडु स्मार्ट सर्विसेज प्राइवेट लि. और निदेशकों विजय कुमार चौधरी और विनोद कुमार दन्डोना के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सीबीआई ने प्राथमिकी दर्ज कर दिल्ली, देहरादून और गुरुग्राम में एडुकॉम्प सॉल्यूशंस, एडु स्मार्ट और उसके निदेशकों के आठ परिसरों पर छापेमारी की है. अधिकारियों ने बताया कि कंपनी के खाते को 2016 में गैर निष्पादित परिसंत्त‍ियां घोषित किया गया था.

13 बैंकों के गठजोड़ में से सात ने इसके बारे में शिकायत की थी. एडुकॉम्प सॉल्यूशंस की स्थापना 1994 में हुई थी. कंपनी स्कूलों के लिए डिजिटल एजुकेशनल कॉन्टेंट तैयार करती है और 'स्मार्टक्लास' तथा 'एडुरिच' के नाम से वोकेशनल कोर्स चलाती है. कंपनी ने यह कॉन्टेंट मुहैया करने के लिए अपनी सबसिडियरी एडु स्मार्ट सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड और स्कूलों के साथ त्रिपक्षीय समझौते किए थे.'स्मार्टक्लास' कारोबार के तहत ESPL को ईएसएल हार्डवेयर और डिजिटल कॉन्टेंट बेचती थी.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...