add image
add image

भाजपा की ईवीएम हैकिंग, पार्टी नेताओं के भीतरघात से हुई हार: कांग्रेस उम्मीदवार

news-details

ओडिशा की सुंदरगढ़ लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार जॉर्ज टिर्की ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर ईवीएम हैक करने और साथ ही अपनी पार्टी के कुछ नेताओं पर भीतरघात करने का भी आरोप लगाया है। टिर्की ने ईवीएम हैकिंग और भीतरघात को अपनी हार के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

भाजपा और कांग्रेस दोनों दलों ने इन आरोपों को खारिज किया है।

भाजपा के जुएल ओराम ने बीजू जनता दल (बीजद) की सुनिता बिस्वाल को 2लाख से ज्यादा मतों से हराकर सुंदरगढ़ सीट पर जीत दर्ज की है जबकि टिर्की तीसरे स्थान पर रहे।

टिर्की ने संवाददाताओं को बताया , "2014में मोदी की लहर थी और भाजपा उम्मीदवार जुएल ओरम को सिर्फ 3.6लाख मत मिले थे और इस बार कोई ऐसी लहर नहीं थी और राउरकेला के भाजपा विधायक दिलीप रे ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। फिर भी ओरम को पांच लाख से ज्यादा मत मिले। "

उन्होंने लोकसभा चुनाव में भाजपा पर ईवीएम मशीन हैक करने का आरोप लगाया।

कांग्रेस नेता ने कहा , " यहां ईवीएम हैकिंग हुई और मैंने पार्टी को इसके बारे में जानकारी दी है। हम कलेक्टर कार्यालय का घेराव करेंगे। "

टिर्की ने अपनी हार के लिए अपनी पार्टी के नेताओं को दोषी ठहराया है।

उन्होंने दावा किया , " मैं हारा , हमारे अन्य उम्मीदवार भी हार गए क्योंकि पार्टी के कुछ सदस्यों ने भीतरघात किया। ये सदस्य बूथ से लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के स्तर तक है। मैंने इस संबंध में पीसीसी को सूचित किया है। "

उन्होंने धमकी दी कि अगर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं की तो मैं " इन्हें सुंदरगढ़ जिले के अंदर नहीं घुसने दूंगा। "

भाषा

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...