add image
add image

जमानत अवधि पूरी होने के बाद फिर कोट लखपत जेल गए नवाज शरीफ

news-details

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ छह सप्ताह जमानत पर रिहा रहने के बाद जेल लौटे।

शरीफ जमानत पर रिहाई की अवधि पूरी होने के बाद मंगलवार देर रात जेल पहुंचे।

शरीफ को अल-अजीजिया मिल्स भ्रष्टाचार मामले में सात साल कारावास की सजा मिली है।

लाहौर स्थित शरीफ के आवास ‘जाति उमरा’ के बाहर पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के हजारों समर्थक एकत्र हुए और उनके साथ जेल तक गए।

शरीफ के आवास से जेल तक का रास्ता 30 मिनट में तय हो जाता है, लेकिन रैली को कोट लखपत पहुंचने में चार घंटे लगे।

उच्चतम न्यायालय ने हृदय एवं किडनी की बीमारी के उपचार के लिए उन्हें छह सप्ताह की जमानत पर रिहा किया था।

जमानत की अवधि मंगलवार रात 12 बजे समाप्त हो गई। शरीफ ने आगे के उपचार के लिए लंदन जाने की अनुमति मांगते हुए एक पुनरीक्षण याचिका दायर की थी जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया था।

तीन बार प्रधानमंत्री रहे नवाज ने जेल पहुंचने के बाद अपने समर्थकों का धन्यवाद किया।

उन्होंने एक संदेश में कहा, ‘‘मेरे प्रति एकजुटता व्यक्त करने के लिए हजारों की संख्या में आए कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देने के लिए मेरे पास शब्द नहीं है। आधी रात में भी कार्यकर्ता मेरे साथ हैं। यह अद्भुत दृश्य है।’’

शरीफ के साथ उनकी बेटी मरियम नवाज भी कार में थी।

मरियम ने ट्वीट किया, ‘‘जाति उमरा से जेल तक की सड़क पर यातायात जाम है। केवल सिर और मोटरचालकों की लंबी कतारें दिख रही है।’’

शरीफ ने कहा, ‘‘लोग जानते हैं कि मुझे किस बात की सजा दी जा रही है। मैंने क्या पाप किया है... वे जानते हैं, लेकिन मुझे उम्मीद है कि दमन की यह काली रात जल्द खत्म होगी और मैं जेल से रिहा हो जाऊंगा।’’

भाषा

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...