add image
add image

यह वकील पिछले 40 -45 सालों से कांच के टुकड़े खा रहे हैं

news-details

मध्य प्रदेश के डिंडोरी जिले से एक बहुत ही अजीबो ग़रीब मामला सामने आया है। डिंडोरी के एक वकील दयाराम साहू पिछले 40 -45  सालों से शीशा अर्थात कांच के टुकड़े खा रहे हैं। जी हाँ आप वीडियो में देख सकते हैं कि वह कितने आराम से कांच के टुकड़े खा रहे हैं। यह खतरनाक तो है साथ ही बहुत घातक है।

बचपन में कुछ बच्चों को मिट्टी, बालू या रेत खाने की आदत होती है। पर बड़ों की सख्ती और समझाने से वह इस आदत को भूल जाते हैं। पर कुछ लोग बड़े होने पर भी खड़िया यानी चॉक पेंसिल का छिलका आदि बड़े चाव से चबाते हैं। उनका कहना होता है कि यह सोंधा सा लगता है। पर यह मामला इन सबसे अलग और बहुत खतरनाक है। 

उन्होंने कहा कि , "यह मेरे लिए एक लत के जैसा है। इस आदत ने मेरे दांतों को नुकसान पहुँचाया है। मैं औरों को ऐसा न करने का सुझाव देना चाहूंगा। क्योंकि यह स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। मैंने स्वयं भी इसे खाना कम कर दिया है।" 

दर्शकों व पाठकों से अनुरोध है कि वह इसको केवल एक समाचार के रूप में लें। इसे आज़माने की कोशिश भी न करें। इस संसार में न जाने कितनी भांति के लोग हैं और न जाने उनको कैसी-कैसी लत है। आपको याद होगा जब एक लड़की के पेट से डॉक्टर ने बाल निकाले थे क्योंकि उसे इंसानी बाल खाने की लत थी। जब उसके आँतों में पूरी तरह से बाल भर गए तो उसे पेट में दर्द होने लगा। घर वालों ने जब अस्पताल में दाखिल करवाया तो डॉक्टर ने अल्ट्रासाउंड के माध्यम से उसके पेट में बाल भरे होने का पता लगाया। फिर ऑप्रेशन के जरिये उसके पेट से बालों को निकाला गया। पर यह मामला ज़रा हटके और खतरनाक है। 

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...