add image
add image

इन पांच घरेलु नुश्को से दूर कर सकते है आप अपनी थ्रेडिंग का दर्द

news-details

थ्रेडिंग करना भी महिलाओं के सौंदर्य का एक महत्यपूर्ण हिस्सा है। महिलाओं की आँखे उनके आकर्षण का केंद्र होती है। आँखों को सुन्दर दिखाने के लिए थ्रेडिंग करना भी एक अंश होता है, पर इसके साथ दर्द भी बहुत सहना होता है। थ्रेडिंग के बाद कई महिलाओं ने त्वचा पर जलन और दानों की शिकायत जताई है, जो कि बिलकुल आम है और लगभग हर लड़की की ये शिकायत होती है। दरअसल, आँखों के आसपास की त्याचा बेहद नरम होती है और जब इनसे बाल धागे द्वारा निकले जाते है, तो त्वचा पर जलन होना आम बात है। इसी के साथ त्वचा कुछ समय के लिए लाल हो जाती है, रूखी हो जाती और साथ ही इसमें दाने भी आ जाते है।
 
इन पांच घरेलु नुश्को से आप अपनी थ्रेडिंग से होने वाली समस्याओं को काम कर सकते है: 
 
1. गुलाब जल 
     
    जैसे की सब जानते है गुलाबजल त्याचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। ये चेहरे के अन्य हिस्सों के साथ साथ आँखों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। 
    थ्रेडिंग के बाद गुलाबजल लगाने से आखो के लालपन दूर होता है और आँखे खिली-खिली लगती है। 
 
2. खीरा 
    
    ये तो सब जानते है कि खीरा आँखों के नीचे के काले धब्बो को ठीक करता है। पर साथ ही  थ्रेडिंग के बाद खीरे को 2-3 मिनट के लिए आँखों पर रखने से जलन दूर 
    होती है और दाने भी ठीक होते है।
 
3. कच्चा दूध 
    
    थ्रेडिंग के बाद त्वचा रूखी हो जाती है। दूध को रुई से 2 मिनट तक लगाने से त्वचा का रूखापन दूर हो जाता है। 
 
4. चन्दन 
 
    चन्दन का चेहरे पर इस्तेमाल से निखार आता है और चेहरा खिला तथा सुन्दर हो जाता है। उसी प्रकार चन्दन का लेप चेहरे पर लगाकर 15 मिनट तक 
    छोड़ दे और फिर पानी से चेहरे को धो ले। इससे आपकी आँखों की जलन दूर हो जाएगी और साथ ही त्वचा भी निखर जाएगी। 
 
5. बर्फ 
   
    बर्फ पिम्पल्स के दाने को बिठाने में काम आती है। कुछ समय के लिए बर्फ को एक कपडे में लपेटकर अपनी आँखों पर लगाए, इससे आपके दाने सही हो 
    जायेगे।   

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...