add image
add image

Viral Video: करंट लगने पर शख्श को बालू में गाड़ किया देसी इलाज

news-details

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में एक शख्स को करंट लगने के बाद उसके घर के सदस्यों ने उसका इलाज एक देसी तरीके से किया। इस 'देसी इलाज' को करने के लिए उस शख्श को पांच घंटे तक बालू में गाड़ दिया, जिससे उसकी मौत हो गयी. पीलीभीत के गजरौला इलाके के पिंडरा गांव में सरदार जोगा सिंह का फार्म है और उस फार्म में ही उनका घर है. उनके घर के ऊपर से हाई टेंशन लाइन गुजरी है. जोगा सिंह अपने आंगन में खड़े थे तभी अचानक से हाई टेंशन लाइन टूटकर आंगन में गिर गयी जिससे उन्हें करंट लग गया और वह जल भी गए.

उनके घर वालों का ऐसा मानना है कि अगर किसी को करंट लगा हो तो उसे अगर बालू में गाड़ देने से वह ठीक हो जाता है. इस सोच के मुताबिक उन सब ने जोगा सिंह को गढ्ढा खोद के उन्हें बालू में गाड़ दिया. हालाँकि इस बात का ख्याल भी रखा गया कि जोगा सिंह का सर, हाथ और पैर के पंजे बाहर हों.

जोगा सिंह को बालू में गाड़ने के बाद उसके घर वाले पांच घंटे तक उनके हाथ-पैर के पंजे सहलाते रहे, लेकिन उनकी मौत हो गयी. जोगा सिंह के रिश्तेदारों का कहना हैं कि जोगा की मौत बिजली विभाग की लापरवाही से हुई है क्योंकि उनका घर 40 साल पुराना है,लेकिन इसके बावजूद उनके घर के ऊपर से हाई टेंशन लाइन खींची गयी.

 

वहीं इलाक़े के डॉक्टरों के मुताबिक जोगा को जली हुई हालत में फौरन इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जाता तो उन्हें बचाया जा सकता था. लेकिन जली हुई हालत में उनका इलाज करने के बजाये उनको बालू में गाड़ देना उनके लिए जानलेवा साबित हो गया.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...