Surya Samachar
add image
add image

देश को दहलाने वाले पुलवामा हमले की आज पहली बरसी

news-details

जम्मू कश्मीर में हुए पुलवामा हमले ने पूरे देश को अंदर तक झकझोर कर दिया है. आपको बता दे कि आज पुलवामा हमले की पहली बरसी है. आज इस दर्दनाक हमले को पूरा एक साल बीत चूका है. हालांकि इस एक साल के दौरान इस हमले की जाँच करने वाली इन्वेस्टिगेशन एजेंसी यानी एनआईए से साफ़तौर पर पता चल गया. कि सीआरपीएफ़ के जवानों की गाड़ी पर बम गिराने वाला कौन था, और इस हमलें  में कौन से विस्फ़ोटक का इस्तेमाल किया गया था. 
 
 
आपको बता दे कि पुलवामा हमले के पाँच आरोपी अभी तक मारे जा चुके है. लेकिन इस हमले का मास्टरमाइंड  जैश-ए- मोहम्मद का सरगना सैयद मसूद अजहर अभी भी पाकिस्तान में ज़िंदा बैठा हुआ है. आपको बता दे कि सूत्रों के मुताबिक़ पुलवामा में हुए इस हमले वहाँ सैनिको के शरीर के अलग अलग टुकड़े मिले थे. ऐसे में जाँच के दौरान एनआईए का ऐसा मानना था कि इस इन्हीं टुकड़ो में कही पर फिदायीन हमलावर का टुकड़ा भी मिल जाये. एनआईए के मुताबिक़ आदिल अहमद डार नाम के एक व्यक्ति के शामिल था जो पुलवामा के पास के गाँव में रहता था. 
 
 
आपको बता दे कि इस पूरे हमले में जब पूछताछ के दौरान आदिल अहमद डार के परिवारों वालो से जब इस बात का पूछा गया. तो उन्होंने इस बात को क़बूल किया कि उनका बेटा इस आंतकी हमले में शामिल था. उसके बाद एनआईए ने पुलवामा में मिले शरीर के टुकड़ो में से एक टुकड़े का आदिल अहमद डार के पिता से डीएनए मैच किया, और वह डीएनए मैच होने एक बाद जाँच एजेंसी को इस बात का भरोसा हुआ. कि इस हमले में आदिल अहमद डार भी शामिल था आपको बता दे कि हमले में आडीएक्स जैसे घातक विस्फ़ोटक मिलाये गए थे. 
 
 
आपको बता दे कि बीते साल 14 फरवरी 2019 को पुलवामा के पास सीआरपीएफ की 76 वीं बटालियन की एक बस से जैश-ए- मोहम्मद के आतंकियों ने विस्फोटक भरी गाड़ी टकरा दी थी. जिसके बाद इस हमले में 42 जवान शहीद हो गए थे.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...