Surya Samachar
add image

श्रद्धा हत्याकांड: हर गुजरते दिन के साथ उलझती ही जा रही है गुत्थी

news-details

नयी दिल्ली: श्रद्धा हत्याकांड में हर गुजरते दिन के साथ नई जानकारियां सामने आ रही हैं और पुलिसिया जांच में नई परतें खुलती नजर आ रही हैं। य​ह कहा जा सकता है कि हत्या की गुत्थी सुलझने के बजाय उलझती ही जा रही है।  अब इस मामले में एक बड़ा और नया खुलासा हुआ है। आफताब का अब कहीं न कहीं नशे के कारोबारियों से भी संबंध बनते हुए दिखाई दे रहे हैं। 
 
दरअसल में गुजरात पुलिस ने एक ड्रग पैडलर को गिरफ्तार किया है पूछताछ में जानकारी मिल रही है कि यह ड्रग पैडलर आफ़ताब को जानता था। इस ड्रग पैडलर का नाम फैजल मोमिन बताया जा रहा है। अब ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह है कि आफ़ताब पहले से ही ड्रग्स के कारोबार से जुड़ा हुआ तो नहीं है। फ़िलहाल इस मामले में जांच जारी है। गुजरात पुलिस फैजल मोमिन से गहनता से पूछताछ कर रही है। 
 
इससे पहले आपको यह भी बता दें कि मामले में महरोली में मिले मानव अबशेषों का डीएनए सैम्पल श्रद्धा के पिता विकास से मैच हो चूका है। ऐसे में अब मामला आफ़ताब के खिलाफ मजबूत होता हुआ दिखाई दे रहा है। 
 
 
शातिर अपराधी की तरह कर रहा है व्यवहार 
 
एक रिपोर्ट के अनुसार जानकारी मिल रही है कि ऐसा लगता है कि आफताब ने पॉलीग्राफ टेस्‍ट की पहले से रिहर्सल की थी। एक अधिकारी ने कहा कि ऐसा लग रहा है, जैसे आफताब को पहले से पता था कि किस तरह के सवाल पूछे जाएंगे। वह कुछ सवालों का बड़ी बेबाकी से जवाब दे रहा है, लेकिन मर्डर से जुड़े सवालों में चुप्पी साध लेता है।  
 
 
किसी और लड़की के भी था सम्पर्क में आफ़ताब 
 
आफताब उस लड़की से श्रद्धा के मर्डर के बाद डेटिंग एप बम्बल के जरिए मिला था। मोबाइल एप के जरिए संपर्क में आई उस लड़की को भी उसने अपने महरौली स्थित फ्लैट पर बुलाया था। ये लड़की जब फ्लैट पर आई थी तो आफताब श्रद्धा के शव के टुकड़े करके फ्रिज में रखे हुए था। पुलिस ने लड़की से पूछताछ की है और जानकारी मिल रही है कि ये लड़की पेशे से साइकॉलोजिस्ट है।    
 
यह हत्याकांड का पूरा मामला 
 
आपको बता दें कि मुंबई की श्रद्धा वॉल्कर आफताब के साथ दिल्ली के महरौली में एक फ्लैट में लिव इन में रह रही थी। आरोप है कि आफताब ने 18 मई को श्रद्धा की गला दबाकर हत्या कर दी थी। आफताब के अनुसार, श्रद्धा उस पर शादी को लेकर दबाव डाल रही थी। आफताब ने इसके बाद श्रद्धा के शव के 35 टुकड़े किए थे और महरोली के जंगल में फेंक दिया था।

You can share this post!