add image
add image

एम एस धोनी जाएंगे लेह-लद्दाख, 15 अगस्त को फहराएंगे तिरंगा!

news-details

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी सेना के साथ अपनी ट्रेनिंग में व्यस्त हैं. धोनी साउथ कश्मीर में अपनी यूनिट के साथ आम जवान की तरह रह रहे हैं. अब धोनी को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. खबरों के मुताबिक धोनी 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लेह-लद्दाख जा सकते हैं और वहां वो तिरंगा फहरा सकते हैं. भारतीय टेरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल धोनी ने आर्मी में काम करने के लिए क्रिकेट से दो महीने का आराम लिया है. उन्होंने 30 जुलाई को सेना के साथ ड्यूटी संभाली थी और वो 15 अगस्त तक ही अपनी बटालियन के साथ रहेंगे.
 
धोनी सेना के ब्रांड एंबेसडर

धोनी पर सेना के अधिकारी ने बयान दिया, धोनी भारतीय सेना के ब्रांड एंबेसडर हैं. वह अपनी यूनिट के सदस्यों को प्रेरित करने में लगे हुए हैं और अकसर सैनिकों के साथ फुटबॉल और वॉलीबॉल खेल रहे हैं. वह कोर के साथ अभ्यास भी कर रहे हैं. वह 15 अगस्त तक घाटी में रहेंगे. हालांकि सेना के अधिकारी ने यह नहीं बताया कि धोनी 15 अगस्त को किस स्थान पर तिरंगा फहराएंगे, लेकिन खबरों के मुताबिक वो स्थान लेह ही होगा. आपको बता दें एमएस धोनी 2011 में टेरिटोरियल आर्मी में शामिल हुए थे. उनके साथ ही ओलिंपिक गोल्डो मेडलिस्टस अभिनव बिंद्रा भी टेरिटोरियल आर्मी में शामिल हुए थे. धोनी के पास लेफ्टिनेंट कर्नल की ऑनरेरी रैंक हैं और वे पैराशूट रेजीमेंट की 106 पैरा बटालियन के सदस्य हैं. इसके बाद से वे कई बार सेना की वर्दी में नजर आए हैं. जब उन्हें पद्म सम्मान मिला था तब भी वे एक जवान के रूप में ही इसे लेने गए थे.
 
शोपियां-अनंतनाग में तैनात है विक्टीर फोर्स

धोनी विक्टर फोर्स के साथ जुड़े हैं. ये यूनिट कश्मीेर के सबसे ज्यादा आतंक प्रभावित जिलों जैसे शोपियां और अनंतनाग में काम करती है. आपको बता दें धोनी को 2011 में लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद रैंक मिली थी. वह क्वालीफाइड पैराट्रूपर भी है और पांच पैराशूट ट्रेनिंग जंप कर चुके हैं. धोनी को भारत का तीसरा उच्चतम नागरिक सम्मान पद्म भूषण मिल चुका है.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...