add image
add image

दिल्ली में VIP कल्चर पर केजरीवाल का वार,बोले अस्पतालों में नहीं मिलेगा प्राइवेट रूम

news-details

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली के सरकारी अस्पतलों में vip कल्चर खत्म करने का फैसला ले लिया है। केजरीवाल ने कहा है की यह स्वास्थय सुविधाओं में सुधार के लिए दुनिया की सबसे बड़ी विस्तार परियोजना है। इसका मकसद दिल्ली के लोगों को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करना है। 
 
केजरीवाल ने सरकारी अस्पताल में vip कल्चर खत्म करने का आदेश दिया है।वीआईपी के लिए अब प्राइवेट रूम नहीं मिलेगा, सभी नागरिकों को समान उपचार मिलेगा, लेकिन यह सबसे अच्छी गुणवत्ता का होगा। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने अस्पतालों में 13,899 बेड बढ़ाने का फैसला किया है। यह दिल्ली के सरकारी अस्पतालों के मौजूदा बेड की संख्या से 120 प्रतिशत ज्यादा है। अभी दिल्ली में 11,353 बेड हैं। केजरीवाल ने कहा हैं की वर्ष 2015 में हमारी सरकार ने अस्पतालों में दोगुना बेड बढ़ाने की घोषणा की थी। इसके तहत स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों के विस्तार की योजना बनाई थी। 
 
इसके अलावा दिल्ली सरकार ने सभी सरकारी अस्पतालों को पूर्ण रूप से एसी बनाने की घोषणा की है। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों को एसी करने के लिए काम किया जा रहा है। तो वहीं दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अस्पतालों के विस्तार से संबंधित योजनाओं की स्टेटस रिपोर्ट मंगलवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सौंपी हैं। 
 
रिपोर्ट में 772 और 600 बेड्स की क्षमता वाले दो अस्पताल, बुराड़ी और अंबेडकर नगर में जल्द बनकर तैयार होने की बात भी है। रिपोर्ट में दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में नए अस्पतालों के निर्माण का जिक्र है।  मंत्री सत्येंद्र जैन की रिपोर्ट के मुताबिक खिचड़ीपुर के लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में एक नया मदर एंड चाइल्ड ब्लॉक बनेगा, जिसमें 460 बेड्स होंगे।  इसको कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है और टेंडर की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। 

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...