add image
add image

भारतीय लोकसभा चुनाव का पाक पर असर, क्यों पाकिस्तान में लोग नहीं चाहते मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बने

news-details

भारत के लोकसभा चुनाव परिणाम पर पड़ोस मुल्क पाकिस्तान की नज़ भी बनी हुई है. इसके पीछे की वजह भारतीय वायु सेना द्वारा पाकिस्तान में घुसकर आतंकी शिविरों पर सर्जिकल स्ट्राइक से घबराहट मानी जा रही है।

इसके अलावा पाकिस्तान में रहने वाले कई लोगों के भारत में पारिवारिक संबंध हैं। पाकिस्तान के नागरिकों का कहना है कि वह नहीं चाहते कि नरेंद्र मोदी दोबारा सत्ता में आएं।

ज्यादातर पाकिस्तानी नागरिक नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की वापसी के बारे में वहां के टीवी न्यूज चैनल के जरिए अपनी राय साझा कर रहे हैं और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं।

लाहौर के रहने वाले शाही आलम ने एक पाकिस्तानी टीवी चैनल से कहा, 'मोदी को सत्ता में वापस नहीं आना चाहिए, उन्होंने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक कराई।'

इमरान खान ने जताई थी मोदी के दोबारा पीएम बनने की इच्छा

एक दूसरे शख्स ऐजाज ने कहा, 'मुझे मोदी के बहुमत के साथ दोबारा सत्ता में आने पर संदेह है। मुझे यकीन है कि उन्हें बहुमत नहीं मिलेगा जो पाकिस्तान के लिए अच्छा है।' बता दें कि कुछ महीने पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि अगर मोदी 2019 का चुनाव जीतते हैं तो दोनों देशों के बीच शांतिवार्ता के अवसर बेहतर होंगे।

विदेश में रहने वाले पाकिस्तानियों की राय अलग

लंदन में रहने वाले पाकिस्तानी बिजनसमैन रियाज कहते हैं, 'पाकिस्तान में रहने वाले लोगों के विचार विदेश में रहने वाले लोगों से अलग हैं। हमारा मानना है कि मोदी को सत्ता में दोबारा वापसी करनी चाहिए। यह पाकिस्तानी धरती से संचालित होने वाले आतंकवादी संगठनों के लिए एक निवारक के रूप में काम करेगा और पाकिस्तान सरकार पर हमारी मातृभूमि से आतंकवाद को खत्म करने के लिए दबाव डालेगा।'

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...