Surya Samachar
add image

दिग्विजय सिंह का बड़बोलापन, कांग्रेस के लिए बना मुसीबत

news-details

नई दिल्ली: कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा के जरिए देश में अपने प्रभाव को मजबूत करने की कोशिश कर रही है। राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी कश्मीर से कन्याकुमारी तक पैदल यात्राएं कर जनसंपर्क करने में जुटी हुई है। लेकिन इन सबके बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर विवादित बयानबाजी की है। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भाजपा पर सवाल उठाते हुए कहा कि,पुलवामा अटैक को लेकर आज तक न संसद में कोई जानकारी पेश की गई और न ही जनता के सामने रखी गई। सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं कि हमने इतने लोग मार गिराए लेकिन प्रमाण कुछ नहीं केवल झूठ बोलने से ही राज कर रहे हैं।' अपने बड़बोलेपन के कारण दिग्विजय सिंह एक बार फिर अपनी ही पार्टी के लिए मुसीबत खड़ी कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने किया किनारा

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मध्य-प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सर्जकिल स्ट्राइक पर सवाल उठाया। जिसपर राहुल गांधी ने उनका निजी बयान बताकर इससे किनारा कर लिया। वैसे ये पहली बार नहीं है जब दिग्विजय सिंह ने अपने बयान से पार्टी को मुसीबत में डाला हो। इससे पहले भी उन्होंने कई बार विवादित बयान दिए हैं। आइए आपको बताते हैं दिग्विजय सिंह के उन चर्चित और विवादित बयानों के बारे में।

सत्ता के दो केंद्रों ने नहीं किया काम: दिग्विजय सिंह ने अपनी ही केंद्र सरकार पर सवाल उठाए थे। उन्होंने 2004 से 2014 तक रही यूपीए की सरकार पर कई विवादित बयान दिए। एक इंटरव्यू के दौरान दिग्विजय सिंह ने मनमोहन सरकार पर काम न करने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि, 'सत्ता के दो केंद्र (तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी) ठीक से काम नहीं कर सके। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को भविष्य में इस सिस्टम को बदलने की जरूरत है।

100 टका टंच माल: दिग्विजय सिंह ने अपनी ही पार्टी की नेता पर अभद्र टिप्पणी की थी। उन्होंने मीनाक्षी नटराजन को 100 टका टंच माल कह दिया था। दिग्विजय सिंह के इस विवादित बयान के बाद जमकर बवाल हुआ था। भाजपा ने उनके साथ-साथ कांग्रेस पार्टी को भी निशाने पर लिया था।

ओसामा को जी से किया संबोधित: मध्य-प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह आतंकी घटनाओं और आतंकाविदयों पर भी विवादित बयान दे चुके हैं। उन्होंने एक बयान में आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को 'ओसामा जी' कहकर संबोधित किया था। उनके इस बयान पर काफी विवाद हुआ और कांग्रेस को काफी फजिहत झेलनी पड़ी थी। 

हिंदुत्व पर दिया विवादित बयान: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने साल 2016 में हिंदुत्व पर एक विवादित बयान दिया था। यह बात आज से 6 साल पहले 2016 कि है। दिग्विजय सिंह ने कहा था  कि, 'हिंदुत्व कोई शब्द नहीं है और न ही मैं हिंदुत्व को मानता हूं.' यह वही बयान है जिसमें उन्होंने 'हिंदू आतंकवाद' की भी जिक्र किया था। दिग्विजय सिंह के इस बयान पर काफी बवाल मचा था। जिसको लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर जमकर हमला किया था। हालांकि दिग्विजय सिंह ने बाद में कहा, था कि उन्होंने हिंदू आतंकवाद नहीं, बल्कि संघ आतंकवाद कहा था'।

पीएम मोदी को लेकर भी की टिप्पणी

कांग्रेस के सीनियर लीडर दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी के ऊपर भी विवादित टिप्पणी की थी। ये बात साल 2021 की है मध्य-प्रदेश के भोपाल में कांग्रेस का एक कार्यक्रम चल रहा था। इस दौरान दिग्विजय सिंह ने कहा था कि 'पीएम मोदी से वही महिलाएं प्रभावित हो रही है जिनकी उम्र 40 साल से ज्यादा है, न कि जींस पहनने वाली लड़कियां। उनके इस बयान पर काफी हंगामा हुआ था। इसे महिलाओं और बेटियों का अपमान बताया गया। दिग्विजय सिंह के इस विवादित बयान पर कांग्रेस को काफी फजिहत झेलनी पड़ी थी।  

You can share this post!