add image
add image

कांग्रेस ने सवाल उठाया, सरकार ने क्यों वायु सेना के ‘पुराने’ एएन-32बेडे को नहीं बदला

news-details

कांग्रेस ने असम के जोरहाट से उड़ान भरने के बाद अरुणाचल प्रदेश में लापता हुए एएन-32विमान पर सवार भारतीय वायु सेना के कर्मियों की सुरक्षा और कुशल क्षेम पर बुधवार को चिंता जताई और सरकार से सवाल किया कि उसने पुराने एएन-32बेडे को बदलने के लिए संसाधनों को आवंटित क्यों नहीं किया।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि रक्षा मंत्री को जवाब देना चाहिए कि जब भारतीय वायु सेना ने अंडमान और निकोबार द्वीप के रास्ते में एएन-32विमान को खो दिया था तो इसके बाद कदम क्यों नहीं उठाए गए। इस विमान का पता नहीं चला था।

सुरजेवाला ने टि्वटर पर कहा, ‘‘लापता विमान एएन-32के क्रू सदस्यों और भारतीय वायु सेना के कर्मियों की सुरक्षा तथा कुशल क्षेम के लिए प्रार्थना। यह जानकार दुख हुआ कि एएन-32के पास एसओएस सिग्नल यूनिट थी जो पुरानी हो गई है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार को बताना चाहिए कि भारत और यूक्रेन के 2009के समझौते के बावजूद एएन-32का आधुनिकीकरण क्यों पूरा नहीं किया गया।’’

उन्होंने कहा कि सरकार और रक्षा मंत्रालय को यह भी जवाब देना चाहिए, ‘‘आखिर इतने खतरनाक और अनिश्चितता भरे मार्ग पर एएन-32जैसे विमान को क्यों भेजा गया, जब हमारे पास बेहतर विकल्प मौजूद थे। इसके अलावा सरकार ने एएन-32विमानों के बेड़े को बदलने के लिए आज तक रक्षा बजट में कोई प्रावधान क्यों नहीं किया?’’

अरुणाचल प्रदेश के मेनचुका में घने जंगल में एएन-32के लापता होने के दो दिन बाद व्यापक तलाश अभियान चलाया गया है। तलाश अभियान में विमानों, हेलीकॉप्टरों और जवानों का बड़ा दल शामिल हैं और उपग्रह से तस्वीरें लेने का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

                 भाषा

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...