add image
add image

अर्थव्यवस्था को बूस्ट देने के लिए एक्‍सपोर्ट और हाउसिंग सेक्‍टर के लिए बड़ी घोषणा

news-details

आर्थिक मंदी को लेकर विपक्ष ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा हुआ है. इस बीच केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक बार फिर मीडिया से रूबरू हुईं. असल में, आज 2.30 बजे वित्तमंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस होने वाली थी  जिसमें निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमारा ध्यान होम बायर्स, एक्‍सपोर्ट  और टैक्‍स रिफॉर्म पर है.
 
निर्मला सीतारमण ने कहा कि 45 लाख रुपये तक के मकान को खरीदने पर टैक्स में छूट के निर्णय का लाभ रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को मिला है.
 
अफोर्डेबल, मिडिल इनकम हाउसिंग के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ के फंड की घोषणा की. इसके लिए स्‍पेशल विंडो बनाई जाएगी. अफोर्डेबल हाउसिंग पर एक्सटर्नल कॉमर्शियल बोरोइंग (ECB) गाइडलाइंस सरल की जाएगी. बता दें कि ईसीबी विंडो के अंतर्गत भारत की कंपनियां अलग-अलग इंस्ट्रूमेंट्स के द्वारा कुछ खास स्थितियों में विदेश से कर्ज जुटाने के योग्य हैं.
 
निर्मला सीतारमण के अनुसार फॉरेक्‍स लोन नियम को आसान बनाया गया.
 
निर्मला सीतारमण ने कहा कि छोटे डिफॉल्‍ट में अब आपराधिक मुकदमा नहीं चलेगा. वहीं 25 लाख रुपये तक के टैक्‍स डिफॉल्‍टर्स पर कार्यवाही के लिए सीनियर अधिकारियों की मंजूरी आवश्यक होगी.
 
आयकर में ई-एसेसमेंट स्कीम को लागू किया जायेगा. ई असेसमेंट स्कीम दशहरे से शुरू की जाएगी.  एसेसमेंट में कोई भी व्यक्ति हस्तक्षेप नहीं करेगा. यह पूरी तरह से ऑटोमैटिक होगा.
 
वित्त मंत्री ने कहा कि एक्‍सपोर्ट के लिए नई स्‍कीम लॉन्‍च की गई है. 1 जनवरी 2020 से मर्चन्डाइज एक्सपोर्ट फ्रॉम इंडियन स्कीम (MEIS) की जगह नई स्‍कीम RODTEP को लॉन्‍च किया गया है. इस नई स्‍कीम से सरकार पर 50 हजार करोड़ रुपये का बोझ बढ़ जायेगा. वहीं एक्‍सपोर्ट में ई-रिफंड जल्‍द लागू होगा.
 
एक्‍सपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए मार्च में 4 मेगा फेस्टिवल का आयोजन होगा. यह फेस्टिवल 4 अलग-अलग  शहरों में आयोजित होगा.
 
देश के सभी पोर्ट पर मैनुअल क्लियरेंस दिसंबर 2019 से खत्‍म होगा.
 
अप्रैल-जून में इंडस्‍ट्री के रिवाइवल के संकेत मिले हैं. इसके अतिरिक्त क्रेडिट गारंटी स्‍कीम का फायदा एनबीएफसी को मिला है.
 
बैंकों का क्रेडिट आउटफ्लो बढ़ा है. इसके साथ ही क्रेडिट आउटफ्लो की जानकारी के लिए 19 सितंबर को PSU बैंकों के प्रमुख के साथ बैठक करेंगी.
 
इससे पहले भी इकोनॉमी को बूस्‍ट करने के लिए निर्मला सीतारमण दो बार प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर चुकी हैं.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...