Surya Samachar
add image

Himachal Cabinet Expansion: सुक्खू सरकार में 7 विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ, तीन पद अभी खाली

news-details

Himachal Cabinet Expansion: रविवार को हिमाचल कैबिनेट (Himachal Cabinet) का विस्तार हो गया। 7 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ग्रहण की। बता दे कि अभी भी सरकार में तीन पद खाली है। राजभवन शिमला (Shimla Rajbhawan) में शपथ ग्रहण समारोह (Oath Ceremony) का आयोजन किया गया। मुख्य सचिव प्रबोध सक्सेना ने कार्यवाही का संचालन किया।

राज्यपाल ने दिलाई शपथ

बता दे कि, राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर (Rajendra Vishwanath Arlekar)ने सात विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई। धनीराम शांडिल ने सबसे पहले मंत्री पद की शपथ ली। इसके बाद चंद्र कुमार ने दूसरे स्थान पर मंत्री पद की शपथ ली। तीसरे स्थान पर हर्षवर्द्धन चौहान, चौथे स्थान पर जगत सिंह नेगी ने मंत्री पद की शपथ ली।

वहीं, पांचवें स्थान पर रोहित ठाकुर (Rohit Thakur) ने मंत्री पद की शपथ ली। अनिरुद्ध सिंह (Anirudh Singh) ने छठे स्थान पर और विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditya Singh) ने सातवें स्थान पर मंत्री पद की शपथ ली। शिमला को पहली ही सूची में तीन मंत्री मिले हैं। मंत्रियों के तीन पद अभी खाली रहेंगे।

पहले सीएम ने दिलाई शपथ

इससे पहले मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू (CM Sukhvinder Singh Sukhu) ने छह विधायकों को मुख्य संसदीय सचिव और संसदीय सचिवों को शपथ दिलाई। सुक्खू सरकार (Sukhu Government) में छह मुख्य संसदीय सचिव और संसदीय सचिव बनाए गए हैं। सुंदर सिंह ठाकुर (Sunder Singh Thakur) को मुख्मयंत्री ने मुख्य संसदीय सचिव की शपथ दिलाई। रामकुमार चौधरी, मोहन लाल ब्राक्टा को भी मुख्य संसदीय सचिव और रामकुमार को संसदीय सचिव की शपथ दिलाई गई।

आशीष बुटेल भी मुख्य संसदीय सचिव बनाए गए हैं। उन्होंने भी शपथ ली। किशोरीलाल, संजय अवस्थी को भी मुख्य संसदीय सचिव बनाया गया। मुख्य संसदीय सचिव बनाने की पहल वीरभद्र सरकार में शुरू हुई थी। जब मंत्रियों को बनाने की सीमा तय हुई थी कि मुख्यमंत्री के अलावा केवल 11 मंत्री ही बनाए जा सकते हैं। 

You can share this post!