add image
add image

पर्यटन की दृष्टि से भारत पहुंचा 34वें स्थान पर

news-details

भारत की सरकार ने अनेक पर्यटन स्थलों का विकास करवाया है, इससे देश के बाहर यानि की विदेशियों की भारत के पर्यटन स्थलों में रूचि बढ़ी है. देश के पर्यटन स्थल में लगातार सुधार होने से 4 साल की रैंकिग में भारत टॉप 25 देशों को छोड़, 34वें स्थान पर पहुंच गया है. ये खबर वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की ताजा रिपोर्ट में पता चला है. भारत का स्कोर 2015 में 4.0 था जो अब 2019 में बढ़कर 4.4 हो गया है.

अगर इजाफे की बात की जाये, तो पर्यटक सबसे ज्यादा आकर्षित प्राकृतिक और सांस्कृतिक संसाधन से होते हैं. आंकडो के अनुसार, रैंकिंग में फायदा भारत में स्वास्थ्य, सुरक्षा, टूरिस्ट सर्विसेज, स्वच्छता और इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार से हुआ है.  

टॉप 10 में फ्रांस, अमेरिका, जर्मनी, जापान, यूके, इटली, कनाडा, आस्ट्रेलिया और स्विट्जरलैंड देश शामिल है. इन सभी में डब्ल्यूईएफ के इंडेक्स में स्पेन टॉप पर है. इंडेक्स में शामिल किये गए देशों की संख्या कुल 140 है. बता दें कि, वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की रिपोर्ट 2 साल में एक बार की जाती है.

बताया जा रहा है कि, भारत ने व्यापार और पर्यटन क्षेत्रों में दक्षिण एशिया के अन्य देशों के मुकाबले जबरदस्त काम करके अच्छी पकड़ बनाकर, किफायती दामों में खूबसूरत जगहें भारत को अपनी तरफ खींच रही है.

अगर वर्ल्ड बैंक के अनुसार देखा जाये, तो 2017 में लगभग 1.5 करोड़ विदेशी भारत घूमने आए थे.

भारत के टूरिस्ट इंडस्ट्री में 2.8 करोड़ लोग काम करते हैं. और ये 3.6 फीसदी जीडीपी का योगदान भी करते हैं.  

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...