add image
add image

JK पर फर्जी ट्वीट कर फंसीं शेहला राशिद, SC में वकील ने की गिरफ्तारी की मांग

news-details

जेएनयू की पूर्व छात्र नेता और जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट की नेता शेहला रशीद के कश्मीर पर किये गए दावों को सेना ने एक सिरे से नकार दिया है. भारतीय सेना ने कहा है कि यह सारे आरोप बेबुनियाद हैं. इस तरह की फर्जी खबर फैला कर असामाजिक तत्वों और संगठनों की तरफ से जनता को उकसाने का काम कर रही हैं.

कश्मीर के हालातों को लेकर शहला राशिद ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं. शहला ने कहा, ‘’ कश्मीर में हालात चिंताजनक है. सेना के जवान आम नागरिकों के घर में घुस रहे हैं और उन्हें सताया जा रहा है.’’ शहला ने आगे लिखा, ‘’सुरक्षाबलों के जवान आधी रात में लोगों के घरों में घुसकर उन्हें उठा रहे हैं और घरों में तोड़फोड़ कर रहे हैं. फर्श पर जानबूझकर राशन फैला रहे हैं और चावल के साथ तेल मिला रहे हैं.’’

शहला राशिद ने आगे कहा, ‘’जम्मू-कश्मीर पुलिस का कानून और व्यवस्था की स्थिति पर कोई अधिकार नहीं है. उन्हें शक्तिहीन बना दिया गया है. सब कुछ अर्धसैनिक बलों के हाथों में है. सीआरपीएफ के एक जवान की शिकायत पर एक एसएचओ का तबादला कर दिया गया.’’

शहला के इन दावों पर सुप्रीम कोर्ट में वकील अलख आलोक श्रीवास्तव ने उनके खिलाफ झूठ फैलाने और गुमराह करने का आरोप लगाते हुए याचिका दाखिल की है.

वकील ने शहला के गिरफ्तारी की मांग करते हुए कहा है कि शहला झूठ फैला लोगों के मन में नफरत पैदा कर रहीं हैं.

गौरतलब है कि धीरे धीरे कश्मीर के हालात सुधरने लगे हैं. आज कश्मीर में प्राइमरी स्कूल खोल दिए गए हैं. साथ ही दफ्तर भी खोल दिए गए हैं.

  • Tags
  • #

You can share this post!

Loading...