Surya Samachar
add image

राहुल गांधी ने दिग्विजय सिंह के बयान से किया किनारा, मध्य-प्रदेश के पूर्व सीएम ने सर्जिकल स्ट्राइक पर उठाए थे सवाल

news-details

नई दिल्ली: कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा इस समय जम्मू-कश्मीर में मौजूद है। राहुल गांधी के नेतृत्व में यात्रा पैदल मार्च कर रही है। इसी बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता और मध्य-प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के एक बयान पर राहुल गांधी ने कहा है कि मैं और पार्टी उनके बयान से सहमत नहीं हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दिग्विजय सिंह के सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान से किनारा कर लिया है। उन्होंने मंगलवार को भारत जोड़ो यात्रा के बीच इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी। राहुल गांधी ने कहा कि हमारी आर्मी पर हमें पूरा भरोसा है। अगर आर्मी कुछ करे तो उन्हें सबूत देने की जरूरत नहीं है। ये दिग्विजय सिंह जी का निजी बयान है। मैं सहमत नहीं हूं और न ही कांग्रेस पार्टी। 

दिग्विजय सिंह के बयान से मचा बवाल

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को सर्जिकल स्ट्राक पर एक विवादित बयान दिया था। जिसके बाद इस मुद्दे पर बवाल मचा हुआ है। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए कहा कि हमारे सीआरपीएफ के 40 जवान पुलवामा में शहीद हुए थे। सीआरपीएफ के अधिकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध किया था कि सेना के सभी जवानों को एयरलिफ्ट किया जाए। बावजूद इसके पीएम मोदी ने इस बात को नहीं माना। दिग्विजय सिंह ने यह भी कहा कि, सर्जिकल स्ट्राइक किया गया, लेकिन सबूत नहीं दिखाया। उन्होंने भाजपा पर झूठ बोलने के आरोप लगाए हैं।

 

गौरतलब है कि 18 सितंबर 2016 को पाकिस्तान से आए आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में भारतीय सेना के शिविर पर हमला किया था। इस आतंकी हमले में भारत के 18 जवान शहीद हो गए थे। जिसके जवाब में 28 सिंतबर 2016 को भारतीय सेना ने पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक की था। भारतीय जवानों ने पाकिस्तान की सीमा के अंदर 3 किमी तक घुस कर आतंकी कैंपों को खत्म कर दिया था। इस हमले में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी आतंकवादियों के छह लॉन्चपैड को तबाह कर दिया था और करीब 45 आतंकियों को मार गिराया था।


You can share this post!