नया भारत , नया सवेरा

  • :
Surya Samachar

Breaking News

शीतकालीन सत्र में राम मंदिर पर अध्यादेश नहीं होगा लागू :रामदास अठावले


09-11-2018 14:15:35 PM
modi
suryasamachar.com [Edited by: surya samachar]

मिशन राम मंदिर को लेकर जहां एक तरफ सियासत गर्माई हुई है वही अब संतों ने आंदोलन छेड़ने का पूरा मन बना लिया है. विश्व हिन्दू परिषद ने राम मंदिर आंदोलन को नया मोड़ देने के लिए शंखनाद रैलियों का आयोजन कर रहा है. इसका शुभारंभ 25 नवंबर को अयोद्धा में होगा और अंतिम रैली 9 दिसंबर को होगी. इस बीच इस रैली को ऐतिहासिक बनाने के लिए इसमें पूरा संत समाज और RSS के दिग्गज लोग भी शामिल होंगे. इसके साथ ही BJP की प्रदेश और केंद्र सरकार पर भी मंदिर निर्माण के लिए दबाव बढ़ता जा रहा है. राम मंदिर के निर्माण को लेकर मोदी सरकार को बार बार घेरने की कोशिश की जा रही हैं. चाहे वह दिल्ली में दो दिवसीय संतो का समेलन हो या फिर शंखनाद का एलान.

पहले धर्मादेश और अब शंखनाद

विश्व हिन्दू परिषद् और शिव सेना लगातार यह कह रही हैं की राम मंदिर का निर्माण अब हो जाना चाहिए और इसके लिए सरकार पर लगातार दबाव बनाया जा रहा हैं. सुप्रीम कोर्ट इस मामले को फिलहाल जनवरी तक टाल चुका हैं अब यह मामला सिर्फ अध्यादेश पर टिका हुआ हैं. मिलियन डॉलर सवाल यह की क्या मोदी सरकार यह जोखिम उठाने को तैयार है और खास तौर पर उस वक़्त जब आम चुनाव बिलकुल सिर पर है.

ऐसे में मोदी सरकार में शामिल केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले यह कहते हैं की मोदी कम से कम शीतकालीन सत्र में यह काम नहीं करने वाले है. इस बात की पुष्ठी उन्होंने सूर्या समाचार से की है इससे पहले वह कह चुके हे की राम मंदिर पर अध्यादेश की ज़रुरत नहीं हैं बल्कि दोनों पक्ष आपस में बैठ कर इस मसले को सुलझा ले.