नया भारत , नया सवेरा

  • :
Surya Samachar

Breaking News

जानें 6 दिसंबर 1992 बाबरी मस्जिद का घटनाक्रम


06-12-2018 11:58:51 AM
modi
suryasamachar.com [Edited by: surya samachar]

6 दिसंबर 1992 को यानी 26 साल पहले आज ही के दिन अयोध्या में कारसेवकों ने लाखों की संख्या में आकर बाबरी मस्जिद को गिरा दिया, जिसके बाद देश भर में सांप्रदायिक दंगे हुए और इसमें कई बेगुनाह मारे गए. हर किसी की जुबां पर उस वक्त 'जय श्री राम' का नारा था. भीड़ उन्मादी हो चुकी थी. 

इस दौरान विश्व हिंदू परिषद के नेता अशोक सिंघल, कारसेवकों के साथ वहां मौजूद थे. थोड़ी ही देर में बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी भी जुड़ गए. इसके बाद वहां लालकृष्ण आडवाणी भी पहुंच गए. लालकृष्ण आडवाणी राममंदिर आंदोलन का सबसे बड़ा चेहरा थे. 

बता दें कि 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में भारी सुरक्षा के बीच बीजेपी नेताओं की अगुवाई में भीड़ बाबरी मस्जिद की तरफ बढ़ रही थी, हालांकि पहली कोशिश में पुलिस इन्हें रोकने में कामयाब रही थी. फिर अचानक दोपहर में 12 बजे के करीब कारसेवकों का एक बड़ा जत्था मस्जिद की दीवार पर चढ़ने लगा. लाखों की भीड़ में कारसेवक मस्जिद पर टूट पड़े और कुछ ही देर में मस्जिद को कब्जे में ले लिया.